कर्रेंट अफेयर्स

Airplane Windows: हवाई जहाज की खिड़कियां छोटी क्यों होती, जानिए इसके पीछे का साइंस

<p>आज के वक्त अधिकांश लोग लंबी दूरी का सफर फ्लाइट से करना पसंद करते हैं. फ्लाइट से सफर करने के दौरान व्यक्ति का समय बचता है. फ्लाइट से सफर करने के दौरान फ्लाइट में मौजूद कई सारी चीजों को लेकर मन में सवाल पैदा होता है. जैसे सफर के दौरान आपने ध्यान दिया होगा कि फ्लाइट का विंडो बहुत छोटा होता है. इसके अलावा फ्लाइट का विंडो हमेशा गोल ही क्यों होता है? आज हम आपको बताएंगे कि आखिर क्यों फ्लाइट का विंडो गोल होता है.&nbsp;</p>
<p><strong>फ्लाइट की खिड़कियां</strong></p>
<p>फ्लाइट में सफर के दौरान आपने ध्यान दिया होगा कि खिड़कियां हमेशा गोल और छोटी होती है. लेकिन क्या आप इसके पीछे की वजह जानते हैं. एव&zwj;िएशन एक्&zwj;सपर्ट ने इसका जवाब दिया है. एक्सपर्ट के मुताबिक हवाई जहाज 10,000 फीट से ऊपर उड़ते हैं. जहां केबिन का दबाव और तापमान में पर&zwj;िवर्तन काफी ज्&zwj;यादा होता है. हालांकि फ्लाइट की संरचना ऐसी होती है कि छोटी-छोटी चीजों से फ्लाइट ज्यादा प्रभावित नहीं होते हैं. लेकिन खिड़कियों को हमेशा छोटा रखा जाता है, जिससे केबिन पर दबाव बढ़ने से भी खिड़कियों के कांच पर कोई फर्क नहीं पड़ता है. वहीं आपात स्थिति में भी कम दबाव झेलने की क्षमता बढ़ जाती है.</p>
<p>सिंपल फ्लाइंग की एक रिपोर्ट के मुताबिक विमान की खिड़कियां धड़ का हिस्सा होती हैं. इसलिए उन्हें छोटा रखा जाता है, उन्&zwj;हें बड़ा करने पर प्&zwj;लेन की संरचना कमजोर हो जाती है. दरअसल खिड़कियां विमान की सतह पर हवा के सुचारू प्रवाह को बाधित कर देती हैं, जिससे खिंचाव पैदा होगा और दक्षता कम हो जाएगी. इस दौरान अगर कोई छोटी-मोटी बाहरी वस्&zwj;तु भी टकराती है, तो काफी नुकसान हो सकता है. हालांकि अब कुछ आधुनिक विमान जैसे बोइंग 787 ड्रीमलाइनर में बड़ी खिड़कियां आने लगी हैं.</p>
<p><strong>हवाई जहाज की विंडो गोल</strong>&nbsp;</p>
<p>आपने फ्लाइट में सफर के दौरान या फोटोज में देखा होगा कि फ्लाइट की खिड़कियां हमेशा गोल होती हैं. क्या आप इसके पीछे की वजह जानते हैं? आज हम आपको इसके पीछे की वजह बताएंगे. दरअसल फ्लाइट की खिड़कियां गोल इस वजह से बनाई जाती हैं, क्&zwj;योंक&zwj;ि इससे दबाव पूरे विमान पर समान रूप से बना रहता है. जानकारी के मुताबिक 70 साल से भी ज्&zwj;यादा समय से विमानों में गोल विंडो का इस्&zwj;तेमाल किया जाता है. हालांकि इससे पहले ऐसा नहीं था, शुरुआती दिनों में फ्लाइट को ऊंचाई पर लेकर जाने के दौरान डिजाइन की वजह से दो हादसे हुए थे. जानकारी के मुताबिक 1940 में विमानों को जब अत्&zwj;यध&zwj;िक ऊंचाई पर ले जाने की शुरुआत हुई थी, उस वक्त से गोल विंडो बनाया जाता है.</p>
<p>ये भी पढ़ें: <a href=”https://www.abplive.com/gk/do-you-also-like-to-smell-your-partner-s-clothes-know-the-reason-behind-this-2690585″>क्या आपको भी पार्टनर के कपड़े सूंघना अच्छा लगता है? जानिए क्या है इसके पीछे का विज्ञान</a></p>

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *